इंदिरा गांधी आवास योजना ऑनलाइन फॉर्म | IAY List 2022 pmayg.nic.in

मानव जीवन के अस्तित्व को बनाए रखने के लिए आवास योजना एक मूल आवश्यकता है | और बेहतर जीवन यापन का आधार वह घर है जहां अच्छी सुविधाएं मिलती हो | तो मानव जीवन के अस्तित्व को बनाए रखने के लिए सबसे आवश्यक चीज वह है आवास | आवाज होना चाहिए , भोजन होना चाहिए , कपड़े होने चाहिए तो आवाज इन्हीं चीजों में से एक है जो मानव जीवन के अस्तित्व को बनाए रखती है | अपना घर होने से व्यक्ति को समाज में प्राप्त आर्थिक सुरक्षा और सम्मान मिलता है | यदि किसी व्यक्ति का अपना घर है तो उस व्यक्ति को उससे उसकी आर्थिक सुरक्षा भी मिलती है और साथ ही साथ सम्मान भी मिलता है | मकान के स्वामित्व से बीपीएल परिवार का बुनियादी आत्मविश्वास बढ़ता है | और उसमें प्रगति करने की इच्छा पैदा होती है | जो गरीबी को खत्म करने के लिए बहुत जरूरी है | भारत सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे परिवारों को आवास सुविधा उपलब्ध कराने हेतु इंदिरा गांधी आवास योजना चलाई जा रही है | भारत में ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन जी रहे हैं | तो इनकी गरीबी को खत्म करने और गरीबी रेखा से ऊपर लाने के लिए भारत सरकार ने इंदिरा गांधी आवास योजना को चलाया था | इस योजना की शुरुआत 1985 – 1986 मैं हुई थी | यह जुगाड़ रोजगार गारंटी योजना को एक उपयोजना के रूप में जारी रही | साल 1999 – 2000 से कच्चे मकानों को पक्के मकानों में परिवर्तित करने के लिए कार्य से इसे जोड़ा गया | सितंबर 2016 मैं इंदिरा गांधी आवास योजना का नाम बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना किया गया | इस योजना का वित्तपोषण केंद्र और राज्य के बीच 75 – 25 के अनुपात ने किया जाता है |

इंदिरा गांधी आवास योजना उद्देश्य |

इंदिरा गांधी आवास योजना का मुख्य उद्देश्य अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति , मुक्त बंधुआ मजदूरों के सदस्य द्वारा मकान के निर्माण मैं मदद करना तथा गैर अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के गरीबी रेखा से नीचे के ग्रामीण लोगों को अनुदान मोहिया कराकर मदद करना |

लाभार्थियों के चयन मैं प्राथमिकता |

गरीबी की रेखा से नीचे के लक्ष्य समूह में लाभार्थियों के चयन की प्राथमिकता कर्म कुछ इस प्रकार है |

  • मुक्त बंधुआ मजदूर – जो बंधुआ मजदूर को बंधुआ मजदूर से छुड़ाया जाता है या मुक्त कराया जाता है | वह जो मजदूर है वह प्राथमिकता मैं आते है |
  • अनुसूचित जाति और जनजाति परिवार जो अत्याचारों से पीड़ित है |
  • अनुसूचित जाति और जनजाति परिवार जिनकी मुखिया विद्वान तथा अविवाहित महिलाएं हैं |
  • अनुसूचित जाति और जनजाति परिवार जो बाढ़ आ जाने , भूकंप , चक्रवात तथा इसी पर प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित हो |
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के अन्य परिवार |
  • गैर अनुसूचित जाति और जनजाति के परिवार |
  • शारीरिक रूप से जो विकलांग है |
  • युद्ध में मारे गए सुरक्षित सेवाओं के कार्मिक , अर्धसैनिक बालों की विधवाए या परिवार |
  • विकासात्मक परियोजनाओं के कारण विस्थापित हुए व्यक्ति , खानाबदोश , अर्थ खानाबदोश तथा निर्दिष्ट आदिवासी , विकलांग सदस्यों वाले परिवार और आंतरिक शरणार्थी बशर्ते कि यह परिवार गरीबी रेखा से नीचे हो |

मकानों का आबटन |

मकानों का आबटन लाभार्थी परिवार के महिला सदस्य के नाम पर होना चाहिए | विकल्पत: इसे पति और पत्नी दोनों के नाम पर आबटित किया जा सकता है | इस समय इंदिरा आवास योजना के अंतर्गत सहायता की सीमा निगनानुसार है |

इंदिरा गांधी आवास योजना में इस प्रकार सहायता दी जाती है |

स्वच्छ शौचालय और धूम आ रही थी चूल्हा सहित मकान का निर्माण के लिए मैदानी क्षेत्र मैं जो रह रहे हैं | उन्हें 17 हजार 500 रुपए मिलते हैं प्रति परिवार | और जो पहाड़ी दुर्गम क्षेत्र में रहते हैं उन्हें 19 हजार 500 रुपए दिए जाते हैं| ढांचा और सामान्य सुविधा प्रदान करने की लागत मैदानी क्षेत्र में 2 हजार 500 रुपए मिलते हैं | और जो पहाड़ी
दुर्गम क्षेत्र में रह रहे हैं इन्हें भी 2 हजार 500 रुपए मिलते हैं | कुल मिलाकर जो निरा – निरक्षेत्र में जो लोग रह रहे हैं | उन्हें 20 हजार रुपए मिल रहा है | और जो पहाड़ी और
दुर्गम क्षेत्र में भेजो रह रहे हैं | उनको 22 हजार रुपए मिलते हैं इंदिरा गांधी आवास योजना के अंतर्गत |

इंदिरा आवास योजना लिस्ट 2022 |

ग्रामीण विभाग मंत्रालय द्वारा पीएम ग्रामीण आवास सूची 2022 जारी की गई है | इंदिरा आवास योजना के लिए आवेदन करने वाले सभी भारतीय लोग अब ऑनलाइन आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से नई लाभार्थी सूची देख सकते हैं | इंदिरा आवास योजना के तहत देश को गरीबी रेखा के अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति , गैरबधुआ कर्मचारी , अल्पसंख्यक और गैर अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्गों के लोगों के लिए उपलब्ध कराया जाता है | पीएम ग्रामीण आवास योजना का लाभ केवल ग्रामीण क्षेत्र के पात्र आवेदकों को ही दिया जाता है | सभी उम्मीदवार जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक है तो आप फिर अधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें |और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें | अब इंदिरा आवास योजना को पीएम ग्रामीण आवास योजना के नाम से भी जाना जाता है | इंदिरा आवास योजना में मैदानी इलाकों में यूनिट स्पोर्ट्स 70 हजार रुपए से बढ़ाकर 1 लाख 20 हजार रुपए ( 1.2 लाख ) कर दी गई है | और पूर्वी राज्य दुर्गम क्षेत्रों और आईपी जिलों में 75 हजार रुपए से बढ़ाकर 1 लाख 30 रुपए ( 1.3 लाख ) कर दिया गया है | वहीं अब पीएम ग्रामीण आवास योजना मैं स्वच्छ भारत मिशन – ग्रामीण ( एसबीएम – जी ) और मनरेगा या अन्य समर्पित स्रोतों के साथ सामान्य के लिए लोगों को 12 हजार अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाती है | पीएम ग्रामीण आवास योजना के तहत राष्ट्रीय तकनीकी
सहायता एजेंसी ( एसईसीसी ) की भी स्थापना की गई है | जो लोगों को घरों के निर्माण मैं वित्तीय सहायता के अलावा वित्तीय सहायता प्रदान करती है | इस इंदिरा गांधी आवास योजना के तहत लाभार्थियों के बैंक खाते के लाभ हस्तांतरित किया जाता है | इस भुगतान की राशि प्राप्त करने के लिए खाते के साथ आधार कार्ड भी लिंक होना अनिवार्य है | पिछले 3 वर्षों में केंद्र सरकार ने इस पीएम ग्रामीण आवास योजना के तहत अपना घर बनाने के लिए तीन किस्तों में धनराशि प्रदान की है | भारत सरकार 2022 तक सभी के लिए घर उपलब्ध कराने के लक्ष्य को पूरा करना चाहती है | अपने देश के वो गरीब लोग जिनके पास अपना पक्का मकान नहीं है रहने के लिए | उन बीपीएल परिवारों को इंदिरा आवास योजना में पक्का मकान उपलब्ध करायेगी है |

इंदिरा गांधी आवास योजना लिस्ट 2022 ऑनलाइन कैसे देखें |

अधिकारी वेबसाइट इंदिरा आवास योजना यानी pmayg.nic.in पर जाएं | इसके बाद आपके सामने एक होमपेज पर आपको ‘ ड्रॉप डाउन मैन्यू ‘ मैं List/PMAYG Beneficiary के विकल्प पर क्लिक करें | क्लिक करने के बाद आप अपना रजिस्ट्रेशन नंबर दर्ज करें और फिर ‘ सबमिट ‘ बटन पर क्लिक करें | क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर लाभार्थी में ग्रामीण गरीबों की एक सूची दिखाई देगी | और अगर आपके पास स्टेशन नंबर नहीं है | तो आप ‘ एडवांस सर्च सेक्शन ‘ के विकल्प का उपयोग करके सभी जानकारी भरकर लाभार्थी सूची में नाम की जांच कर सकते हैं |

पात्रता मापदंड क्या रखे गए हैं |

जो आर्थिक रूप से कमजोर और गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं | और आवेदन करने से पहले आवेदक के पास पक्का मकान नहीं होना चाहिए | ऐसी कोई योजना राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की गई है | और आवेदन के पास बीपीएल राशन कार्ड होना चाहिए | और उसकी वार्षिक आय 3 लाख रुपए से कम होनी चाहिए | अगर आप की वार्षिक आय 3 लाख रुपए से ज्यादा है तो आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते | आवेदक के पास कोई सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए | इंदिरा आवास योजना एक सरकारी पहल है | जो भारत में ग्रामीण गरीबों को किफायती आवास प्रदान करने का इरादा रखती है | ग्रामीण आवास योजना के तहत केंद्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब और कमजोर आय वर्ग के परिवारों को अपना पक्का घर बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है | इसके साथ ही पुराने कच्चे घर और पक्के घर बनाने के लिए सरकार की ओर से आर्थिक सहायता दी जाती है |

ग्रामीण आवास का पैसा जारी हुआ है या नहीं कैसे पता करें |
ग्रामीण विकास मंत्रालय के अधिकारी वेब पोर्टल पर इंदिरा आवास योजना लिस्ट के साथ – साथ धनराशि की रिपोर्ट भी पता कर सकते हैं | इसके लिए आपको अधिकारी वेब पोर्टल पर ‘ हाई लेवल फिजिकल प्रोसेस रिपोर्ट ‘ के ऑप्शन को सिलेक्ट करें | सिलेक्ट करने के बाद फिर आप अपना राज्य , जिला , ब्लॉक और ग्राम पंचायत सिलेक्ट
करके रिपोर्ट चेक कर सकते हैं | इसके अंतर्गत देश के सभी कमजोर वर्ग को कवर किया जा रहा है |

आवेदन की स्थिति कैसे देखें |
इंदिरा गांधी आवास योजना में आवेदन की स्थिति देखने के लिए पहले आपको इसकी अधिकारी वेबसाइट pmayg.nic.in पर जाना होगा | फिर आपके सामने इस योजना का होम पेज खुलकर आ जाएगा | होम पेज पर जाने के बाद आपके सामने ‘आवेदन स्थिति ‘ का लिंक दिखाई देगा | आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा | लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा | और उस नए पेज पर आपको एप्लीकेशन नंबर डालना होगा | नंबर डालने के बाद आपको ‘ आवेदन स्थिति देखें ‘ का लिंक दिखाई देगा | फिर आपको इस लिंक पर क्लिक करना है | और क्लिक करने के बाद आपकी आवेदन स्थिति आपकी स्क्रीन पर आ जाएगी |

फीडबैक कैसे दे |
अगर इंदिरा गांधी आवास योजना में आपको अपना फीडबैक देना है | तो आपको फीडबैक देने के लिए पहले इनकी अधिकारी वेबसाइट pmayg.nic.in पर जाना होगा | वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने इस योजना का होमपेज खुल जाएगा | होम पेज पर जाने के बाद आपको वहां दिए गए मैन्युबार का लिंक दिखाई देगा | आपको इस ‘मैन्युबार ‘ के लिंक पर क्लिक करना है | क्लिक करने के बाद आपके सामने फीडबैक का लिंक दिखाई देगा | आपको इस ‘ फीडबैक ‘ के लिंक पर क्लिक करना है | क्लिक करने के बाद फीडबैक फॉर्म आपके सामने खुल जाएगा | और फीडबैक फॉर्म में जो कुछ भी आपसे पूछा जाएगा जैसे – मोबाइल नंबर , ईमेल , नाम , यह सब जानकारी आपको उस में लिखनी है | और यह सब जानकारी दर्ज करने के बाद आपको ‘ सबमिट ‘ के ऑप्शन पर क्लिक करना है | और इसी तरह से आप अपना फीडबैक दे सकते हैं |

हेल्पलाइन नंबर
pmayg टेक्निकल हेल्पलाइन नंबर –
1800-11-6446
ईमेल – us: support-pmayg@gov.in
PFMS टेक्निकल हेल्पलाइन नंबर – 1800-11-8111
ईमेल – us: helpdesk-pfms@gov.in

इंदिरा गांधी आवास योजना ऑनलाइन फॉर्म | IAY List 2022 pmayg.nic.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top